अपने विचारों के प्रकटीकरण के लिये वर्तमान में कई माध्यम उपलब्ध हैं जिन्हें सामान्य रूप से दृश्य, श्रव्य और पठन के रूप में विभाजित किया जा सकता है। यूॅं तो सभी माध्यम सषक्त होते हैं, पर दृश्य माध्यम से विचारों या विषय की प्रस्तुति जनमानस के हृदय पर आसानी से अंकित हो जाती है।
नवलय ने जनजागरण हेतु ऐसे ही कुछ राष्ट्रीय विषयों, समस्याओं, कुरीतियों को नृत्य के माध्यम से प्रस्तुत करने का एक आयोजन वर्ष 2016 से प्रारम्भ किया है। इसके अन्तर्गत विभिन्न आयु वर्गों में विभाजित एक माह की नृत्य कार्यशाला का आयोजन ग्रीष्म ऋतु में किया जाता है तदुपरान्त स्थानीय रवीन्द्र भवन में उसकी सार्वजनिक प्रस्तुति की जाती है।
अभी तक 4 नृत्य महोत्सव सम्पन्न हो चुके हैं।
पहला, 8 मई 2016 से नृत्य वर्कषाप प्रारम्भ, 11 जून 2016 को रविन्द्र भवन भोपाल में सार्वजनिक मंचन।
दूसरा, 25 अप्रैल 2017 से नृत्य वर्कषाप प्रारम्भ, 27 मई 2017 को रविन्द्र भवन भोपाल में सार्वजनिक मंचन।
तीसरा, 21 जून 2018 से नृत्य वर्कषाप प्रारम्भ, 19 जुलाई 2018 को रविन्द्र भवन भोपाल में सार्वजनिक मंचन।
चैथा, 23 जून 2019 से नृत्य वर्कषाप प्रारम्भ, 22 जुलाई 2019 को रविन्द्र भवन भोपाल में सार्वजनिक मंचन।