नवलय द्वारा ‘नवलय अनुबोध’ के नाम से मासिक पत्रिका का प्रकाशन मार्च 2018 से किया जा रहा है। वैचारिक अनुष्ठान के इस उपक्रम में एक और आयाम जोड़ने की दृष्टि से नवलय ने सक्रिय, विचारवान सहयोगियों के साथ एक ‘नवलय विमर्श’ के आयोजन की पहल की है। गत 30 अप्रैल 2018 को प्रथम विमर्श के साथ इसकी शुरूआत हो चुकी है। विमर्श के अन्तर्गत किसी भी एक विषय पर आगंतुक प्रतिभागी चर्चा करते हैं। इसमें विषय के बारे में अच्छी जानकारी रखने वाले व्यक्तियों को बुलाकर उनके विचार सुनने व उनसे प्रश्नों के माध्यम से शंकाओं के समाधान या जानकारी की अभिवृद्धि की पहल भी प्रारम्भ हो चुकी है। 31 मार्च 2020 तक 11 विमर्श आयोजित किये जा चुके है।